Uski leela badi hai nirali hai उसकी लीला बड़ी है निराली है- Krishna Bhajan

Uski leela badi hai nirali hai

Lyrics: उसकी लीला बड़ी है निराली है

उसकी लीला बड़ी है निराली है निराली
है निराली है निराली
उसकी लीला बड़ी है निराली
याद करते है शाम और सवरे
हो के रहते है ईश्वर जो तेरे
हो के रहते है ईश्वर जो तेरे

उनके घर है प्रति दिन दीवाली
उसकी लीला बड़ी है निराली
बाग उनका हमेशा हरा है
घर उनका हमेशा भरा है
उनके घर है प्रति दिन दीवाली
उसकी लीला बड़ी है निराली
बाग उनका हमेशा हरा है
घर उनका हमेशा भरा है

ज्योत रब की जिन्हो ने जला ली
उसकी लीला बड़ी है निराली
एक ईश्वर है सबका है सहारा
फूल हर एक उसको प्यारा
क्यूकी हर एक फूल का वो है माली
उसकी लीला बड़ी है निराली
ज्योत रब की जिन्हो ने जला ली
उसकी लीला बड़ी है निराली
एक ईश्वर है सबका है सहारा
फूल हर एक उसको प्यारा
क्यूकी हर एक फूल का वो है माली
उसकी लीला बड़ी है निराली

हर माता की गोदी सजाए
भाई बहानो के जोड़े मिलाए
है दयालु बड़ा जाग का माली
उसकी लीला बड़ी है निराली
हर माता की गोदी सजाए
भाई बहानो के जोड़े मिलाए
है दयालु बड़ा जाग का माली
उसकी लीला बड़ी है निराली

ना तो धन हुंसे वो चाहता है
ना तो धन हुंसे वो चाहता है
ना तो वो हुंसे अन्न चाहता है
ना तो वो हुंसे अन्न चाहता है
वो तो श्रद्धा का भूका है खाली
वो तो श्रद्धा का भूका है खाली
उसकी लीला बड़ी है निराली
उसकी लीला बड़ी है निराली
है निराली है निराली
निराली निराली निराली

Check Also

Kanha Soja Jara\ Krishna Bhajan

Kaanha Soja Zara O Kaanha Soja Zara Lyrics:कान्हा सोजा ज़रा ओ रे बंसी बजाईया नंदलला …