Swikaar Karo Jagdambe Maa Meri Aarti स्वीकार करो जगदांबे मा मेरी आरती- Jagdambe Bhajan By Alka Yagnik And kumar Sanu

Swikaar Karo Jagdambe Maa Meri Aarti

Lyrics: स्वीकार करो जगदांबे मा मेरी आरती

स्वीकार करो जगदांबे मा, मेरी आरती,

स्वीकार करो जगदांबे मा, मेरी आरती,

भक्ति ना जानू, पल पल तुमको पुकारती,

स्वीकार करो जगदांबे मा, मेरी आरती,

स्वीकार करो जगदांबे मा, मेरी आरती,

सांसो का धागा आसा की माला, नैनो दीपक में, प्यार मैने डाला,

सांसो का धागा आसा की माला, नैनो दीपक में, प्यार मैने डाला,

पाने को ममता, पाने को ममता,

तेरी ओर नज़रें निहारती,

स्वीकार करो जगदांबे मा, मेरी आरती,

स्वीकार करो जगदांबे मा, मेरी आरती,

हीरे ना लाए, मोटी ना लाए, खाली हातों ही द्वार तेरे आए

हीरे ना लाए, मोटी ना लाए, खाली हातों ही द्वार तेरे आए

ज्योति अखंड तेरी,

ज्योति अखंड तेरी,

सबके ही जीवन सँवर्ती,

स्वीकार करो जगदांबे मा, मेरी आरती,

स्वीकार करो जगदांबे मा, मेरी आरती,

झोली भर भर जाते हैं बादल, कम नहीं होता है सागर का जल,

झोली भर भर जाते हैं बादल, कम नहीं होता है सागर का जल,

सबकी भरे झोली,

सबकी भरे झोली,

पार सभी उतारती,

स्वीकार करो जगदांबे मा, मेरी आरती,

स्वीकार करो जगदांबे मा, मेरी आरती,

भक्ति ना जानू, पल पल तुमको पुकारती,

स्वीकार करो जगदांबे मा, मेरी आरती

Check Also

Mai Mangti Tere Darbaar Di मैं मंगती तेरे दरबार दी- Maa Durga Bhajan By Narendra Chanchalji

Mai mangti tere darbaar di, Lyrics: मैं मंगती तेरे दरबार दी अज्ज दोहाई है सच्ची …